25 April 2024

aawaj uttarakhand

सच की आवाज़

ऋषिकेश क्षेत्र में सुनार के साथ हुई लूट की घटना में शामिल अभियुक्त पुलिस मुठभेड में हुआ घायल।

दिनांक 18-03-2024 को वादी प्रवीण वर्मा पुत्र अशोक वर्मा निवासी गढी रोड, गली न0-7, दुर्गा ज्वैलर्स ऋषिकेश द्वारा कोतवाली ऋषिकेश में लिखित तहरीर दी की दिनांक 18-03-2024 को अपनी दुकान बंद करके वे अपने घर की ओर जा रहे थे, तभी रास्ते में गली न0-7 में 02 अज्ञात व्यक्तियों द्वारा उन्हें बंदूक दिखाकर उनका बैग लूट लिया, जिसमें 25-30 हजार रूपये की नकदी तथा ज्वैलरी थी, लिखित तहरीर के आधार पर थाना ऋषिकेश में तत्काल मु0अ0सं0-162/24, धारा 393 भादवि का अभियोग पंजीकृत किया गया।

बंदूक की नोक पर हुई लूट की वारदात की गंभीरता के दृष्टिगत घटना के अनावरण तथा अभियुक्तो की गिरफ्तारी हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ऋषिकेश को कडे दिशा निर्देश देते हुए अलग-अलग पुलिस टीमों का गठन किया गया, गठित टीमों द्वारा घटना के सम्बंध में वादी तथा आस-पास के लोगो से घटना के सम्बंध में पूछताछ करते हुए घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरो की फुटेजो का अवलोकन किया गया, साथ ही पूर्व में लूट की वारदातो में प्रकाश में आये अभियुक्तो के संबंध में जानकारी एकत्रित करते हुए उनकी अध्यतन स्थिति की जानकारी प्राप्त करने के लिये अलग-अलग टीमों को गैर जनपद/प्रान्तों को रवाना किया गया। सीसीटीवी फटेजों के अवलोकन से प्राप्त संदिग्धो के हुलियो का पुराने अपराधियो के हुलिये से मिलान कते हुए मखबिर तंत्र को सक्रिय किया गया, जिससे पुलिस टीम को घटना में मेरठ, उत्तरप्रदेश के बदमाशों के शामिल होने की जानकारी प्राप्त हुई, जिस पर तत्काल एक टीम को मेरठ रवाना किया गया। टीम द्वारा मेरठ में अभियुक्तो के सम्बंध में गोपनीय रूप से जानकारी एकत्रित की गई। इस दौरान पुलिस टीम को जानकारी मिली की ऋषिकेश में हुई लूट की घटना में शामिल अभियुक्त मनोज सिरोही दुबारा किसी घटना को अजांम देने की फिराक में देहरादून की ओर गया है, जिस पर मेरठ गई टीम द्वारा संर्विलांस व अन्य माध्यमों से अभियुक्त के सम्बंध में जानकारी एकत्रित करते हुए जनपद के सीमावृति थानो को अभियुक्त के सम्बंध में जानकारी देते हुए प्रभावी चैकिंग सुनिश्चित करायी गई।

दिनांक 22-03-2024 की देर रात्रि आशारोडी बैरियर पर चैकिंग कर रही पुलिस टीम द्वारा सहारनपुर की ओर से आ रही एक मोटरसाईकिल को रोकने का प्रयास किया गया तो मोटरसाईकिल सवार द्वारा मोटरसाईकिल मोडकर भागने का प्रयास किया गया, पुलिस टीम द्वारा अभियुक्त का पीछा करने पर अभियुक्त अपनी मोटरसाईकिल को आशरोडी से आगे सडक किनारे कच्चे रास्ते पर छोडकर पुलिस टीम पर फायरिंग करते हुए जंगल की ओर भाग गया, अभियुक्त द्वारा पुलिस टीम पर लगातार फायरिंग करने पर अपने बचाव में पुलिस टीम द्वारा किये गये जवाबी फायर में अभियुक्त के पैर पर गोली लगी, जिसे पुलिस टीम द्वारा तत्काल उपचार हेतु महंत अस्पताल में भर्ती कराया गया।

अभियुक्त से पूछताछ में उसके द्वारा अपने साथी मोहित के साथ मिलकर ऋषिकेश में लूट की घटना को अजांम दिया जाना बताया गया तथा आज भी देहरादून में लूट के इरादे से आने की जानकारी दी गई। अभियुक्त द्वारा घटना को अंजाम देने के लिये घटना से 01 दिन पूर्व घटना में प्रयुक्त मोटर साइकिल को हरिद्वार के ज्वालापुर क्षेत्र से चोरी किया गया था। घटना में शामिल अन्य अभियुक्त मोहित की गिरफ्तारी हेतु टीमें रवाना की गई है। अभियुक्त मनोज सिरोही शातिर किस्म का अपराधी है, जिसके विरूद्व पूर्व में चोरी/लूट व अन्य संगीन अपराधो के अभियोग पंजीकृत है।

*नाम/पता अभियुक्तः-*

1- मनोज सिरोही पुत्र देवेन्द्र सिरोही निवासी म0न0-116, गली न0-1, आदर्श नगर, थाना ककंडखेडा जिला मेरठ, उत्तरप्रदेश, उम्र-38 वर्ष

*वांछित अभियुक्त :-*

मोहित पुत्र स्व0 बलजोर, निवासी ग्राम पथोली, थाना कंकडखेडा, जिला मेरठ, उत्तरप्रदेश

*बरामदगी:-*

(1)- 01 देशी तमंचा
(2)- 01 जिंदा कारतूस
(3)- 03 खाली खोखे
(4)- ऋषिकेश की घटना में लूटा गया एक पैण्डल

*आपराधिक इतिहास अभियुक्त मनोज सिरोही*
1- मु0अ0सं0-650/20, धारा 379,411 भादवि, थाना कंकडखेडा, मेरठ
2- मु0अ0सं0-652/20, धारा 25 आम्र्स एक्ट, थाना कंकडखेडा, मेरठ
3- मु0अ0सं0-244/05, धारा 323,504,506 भादवि, थाना कंकडखेडा, मेरठ
*(अभियुक्त के विरूद्ध अन्य जनपदों/प्रान्तों में भी अभियोग पंजीकृत हैं, जिनकी जानकारी की जा रही है।)*

*पुलिस टीम:-*

01: प्रभारी निरीक्षक शंकर सिंह बिष्ट, कोतवाली ऋषिकेश
02: उ0नि0दर्शन काला, एसओजी ग्रामीण
03: उ0नि0 दीपक धारीवाल, थानाध्यक्ष क्लेमेंट टाउन
04: उ0नि0 प्रकाश पोखरियाल
05: उ0नि0 आदित्य सैनी
06: उ0नि0 नवीन डंगवाल
07: उ0नि0 पंकज कुमार
08: उ0नि0 अरविन्द पवांर
09: हे0कां0 कमल जोशी, कां0 नवनीत, कां0 सचिन सैनी, कां0 राहुल, कां0 संदीप छाबडी, कां0 दुष्यंत, का0 मनोज