20 April 2024

aawaj uttarakhand

सच की आवाज़

श्री मणिकांत मिश्रा,कमान्डेंट SDRF ने सिलक्यारा टनल में ऑन ग्राउंड सम्भाली राहत एवं बचाव कार्यों की कमान

उत्तरकाशी के ब्रह्मखाल बड़कोट के बीच सुरंग धसने के कारण 36 व्यक्तियों के फंसने के कारण गतिमान SDRF के राहत एवं बचाव अभियान का कमान्डेंट SDRF, श्री मणिकांत मिश्रा द्वारा मौके पर पहुँचकर जायज़ा लिया गया। उनके द्वारा घटनास्थल पर SDRF टीमों को शीघ्रता से राहत एवं बचाव कार्यों को करने हेतु महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिए गए। उनके कुशल नेतृत्व में राहत एवं बचाव कार्य और प्रभावी तौर पर किये जा रहे है।

कल प्रातःकाल ब्राह्मखाल-यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर सिलक्यारा से डंडालगांव तक निर्माणाधीन टनल का एक हिस्सा (सिलक्यारा की तरफ) अचानक टूट गया था। जिसमें 36 के करीब मजदूर अन्दर फंसे होने की आशंका जताई गई थी। घटना की जानकरी मिलते ही पुलिस, एसडीआरएफ, एनडीआरएफ, फायर, आपातकालीन 108 व निर्माणाधीन टनल में कार्यदायी संस्था की मशीनरी मौके पर पहुंचकर बोरवेलिंग व टनल खुलवाने का कार्य करने में जुट गई थी।

सेनानायक SDRF द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया कि SDRF की रेस्क्यू टीमें कल से ही टनल में राहत एवं बचाव कार्यों को समर्पित होकर कर रही है। फंसे हुए लोगों की हर तरीके से सहायता की जा रही है। SDRF टीमें मौके पर कड़ी नजर बनाये हुए है। सुरंग में फंसे लोगों को शीघ्रातिशीघ्र रेस्क्यू करने हेतु रेस्क्यू ऑपरेशन गतिमान है।